Handwriting will be a thing of past…

अमरीका और योरोप में हाल में हुई एक स्टडी के अनुसार आने वाले वर्षों में लोग हाथ से लिखना ही भूल जायेंगे. कारण तकनिकी विकास इतना हो जाएगा की कापी पेंसिल किसी की भी ज़रुरत नहीं होगी. ये सब अभी भी संभव है…

कल्पना करें बच्चा सिर्फ एक टेबलेट ले जा रहा है स्कूल (?). वहां हॉट स्पोट है, बुक्स इंटर नेट पर उपलब्ध हैं, नोट्स के लिए ऑफिस applications हैं, लिखने को tablet पर keyboard है ही , अगर मन न हो नोट करने का तो रिकॉर्ड करने की भी सुविधा है, पॉवर पॉइंट presentation बन सकते हैं, सभी- लगभग सभी विषयों का प्रक्टिकल ज्ञान भरा पड़ा है, अगर ताहिती द्वीप पर कुछ पढ़ना है तो वहीँ कक्षा में बैठे बैठे ताहिती की सैर कर सकते हैं, गृह कार्य उसी पर हो सकता है, और तो और question papers भी उसी पर हल किये जा सकते हैं और रिजल्ट साथ साथ. बस्ते का बोझ भी ख़तम. अध्यापक खुश और बच्चे भी खुश. अब रही बात अपनी हस्त लेख या लिपि की या फिर हस्ताक्षर की , उसकी ज़रुरत पड़ेगी ही नहीं . भले ही अभी वो सुविधाएं सब जगह उपलब्ध नहीं हैं पर जहाँ हैं वहां ये हो ही रहा है. तकनिकी विकास के साथ और भी बहुत कुछ होगा , सिर्फ इंतज़ार करें…

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s